Skip to content

मल्टीविटामिन कैप्सूल के फायदे | Multivitamin Tablet uses in Hindi


Published:
Updated:
image

एक रिपोर्ट के मुताबिक, 10 में से 7 से अधिक भारतीयों में विटामिन की कमी है और उनमें से अधिकांश विटामिन डी की कमी से पीड़ित हैं जो अल्जाइमर रोग, प्रोस्टेट कैंसर, इरेक्टाइल डिस्फंक्शन और सिज़ोफ्रेनिया से जुड़ा हुआ है। यानि अगर हम इस रिपोर्ट को आधार मानें तो 75% भारतीय विटामिन की कमी से पीड़ित हैं। ऐसे में Multivitamin Tablet Uses in Hindi शरीर में विटामिन की कमी को आसानी से पूरा करता है।

आज की भागमभाग और टेंशन इतनी ज्यादा है कि लोग अपने स्वास्थ्य को सबसे कम और अन्य सभी चीजों को सबसे ज्यादा महत्व देते हैं। सही भोजन न करने, तनाव में जीने, काम के दबाव झेलने आदि से उनके शरीर में कई प्रकार की विटामिंस की कमी हो जाती है जिसके लिए डॉक्टर सिर्फ एक ही दवा सुझाते हैं: Multivitamin Capsule या Tablet।

मल्टीविटामिन कैप्सूल एक ऐसा हेल्थ सप्लीमेंट है जिसमें आपको सभी विटामिन और मिनरल्स एक साथ मिल जाते हैं। ऐसे में अगर आपके शरीर को भरपूर मात्रा में विटामिंस नहीं मिल रहा है तो आप इस कैप्सूल की मदद से उनकी कमी पूरी कर सकते हैं। आज के इस ब्लॉग में हम विस्तार से जानेंगे कि मल्टीविटामिन कैप्सूल क्या है, मल्टीविटामिन कैप्सूल के फायदे और नुकसान क्या हैं और इन्हें कैसे इस्तेमाल किया जाना चाहिए। साथ ही अन्य प्रश्नों का उत्तर जानने के लिए अंत तक पढ़ते रहें।


Multivitamin Capsule क्या है (Multivitamin capsule kya hai)

Multivitamin Capsules एक स्वास्थ्य सप्लीमेंट होता है जोकि ढेरों विटामिंस और मिनरल्स को एक साथ प्रदान करता है। इसमें आमतौर पर Vitamin A, B, C, D, K, फॉलिक एसिड, बायोटिन, कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम और दूसरे जरूरी पोषक तत्व मौजूद होते हैं। ये कैप्सूल शरीर में होने वाले किसी भी पोषक तत्व की कमी को पूरी करते हैं और शरीर को स्वास्थ्य प्रदान करते हैं। 

ये टैबलेट, कैप्सूल, चबाने योग्य गमियां, पाउडर और सिरप सहित कई रूपों में उपलब्ध हैं। ऐसे में आपको जिस भी रूप में इसका सेवन ठीक लगे, आप कर सकते हैं। इसे आप आसानी से फार्मेसी, दवा की दुकानों, मॉल या ऑनलाइन खरीद सकते हैं। वर्तमान की लाइफस्टाइल की वजह से लोगों में मल्टीविटामिंस की भारी कमी हो रही है और इसलिए इसके कैप्सूल्स का सेवन भी तेजी से हो रहा है। 

Multivitamin tablet uses in Hindi (मल्टीविटामिन कैप्सूल के फायदे)

मल्टीविटामिन शरीर को कई फायदे पहुंचाते हैं जैसे इनकी मदद से आंखों और त्वचा का स्वास्थ्य बेहतर बनता है, हड्डियां मजबूत होती हैं, हृदय स्वास्थ्य को बल मिलता है, शरीर में पोषक तत्वों की कमी की पूर्ति होती है और यह पूरे प्रतिरक्षा प्रणाली को सपोर्ट करता है। आइए विस्तार से multivitamin tablet uses in Hindi के बारे में जानते हैं।


1. शरीर में पोषक तत्वों की कमी को पूरा करता है (Fulfills the deficiency of nutrients in the body)

वर्तमान समय का हमारा खानपान कुछ ऐसा हो गया है कि हमारे शरीर को उचित मात्रा में पोषक तत्व नहीं मिल पाते हैं। Consumer Health Division of Bayer के मुताबिक, वैश्विक स्तर पर 2 अरब से अधिक लोग MiND (multivitamin deficiencies) से पीड़ित हैं, जिनमें से लगभग आधे लोग भारत में रहते हैं। इसके साथ ही, एक अन्य शोध में यह भी पाया गया कि 70% से अधिक भारतीय अनुशंसित दैनिक मात्रा का सेवन नहीं करते हैं। 

इन कारणों की वजह से शरीर को भरपूर पोषक तत्वों की पूर्ति नहीं हो पाती है और कई रोगों का जन्म होने लगता है। ऐसे में अगर आप अपने डॉक्टर की सलाह लेकर multivitamin tablets का इस्तेमाल करते हैं तो आपके शरीर को सभी पोषक तत्व सही मात्रा में मिल पाएगा। इससे आपका शरीर निरोग होगा और आप हमेशा ऊर्जावान भी महसूस करेंगे।


2. शरीर में ऊर्जा का संचार करता है (Boosts energy in the body)

मल्टीविटामिन कैप्सूल के फायदे यह भी हैं कि यह शरीर में ऊर्जा का संचार करता है और आप हमेशा ऊर्जावान महसूस करते हैं। इसके B Vitamins जैसे थियामिन, राइबोफ्लेविन, नियासिन, पैंटोथेटिक एसिड, पिरिडक्सिन, बायोटिन और कोबालामिन शामिल होते हैं। ये विटामिंस खाद्य पदार्थों को ग्लूकोज में परिवर्तित करते हैं जिससे एनर्जी उत्पादन में मदद मिलती है।

साथ ही, इसमें मौजूद विटामिन सी आयरन के सही शोषण और हिमोग्लोबिन के उत्पादन में भी मदद करते हैं। हिमोग्लोबिन ऑक्सीजन को शरीर के विभिन्न क्षेत्रों तक पहुंचाने में मदद करता है और इससे भी शरीर को ऊर्जा प्राप्त होती है। 


3. हड्डी का स्वास्थ्य बेहतर बनता है (Improves bone health)

भारत में हड्डियों की समस्या एक प्रमुख सार्वजनिक स्वास्थ्य चिंता है। इंडियन सोसाइटी ऑफ ऑर्थोपेडिक सर्जन के अनुसार, लगभग 50% भारतीय आबादी किसी न किसी प्रकार की हड्डी की बीमारी से पीड़ित है। यह आंकड़ा वाकई काफी चौंकाने वाला है और इसका सबसे मुख्य कारण है पोषण युक्त आहार का सेवन न करना।

हमारा खानपान काफी बदल चुका है और हम पोषक तत्वों से भरपूर आहार के बजाय जंक फूड खाना ज्यादा पसंद करते हैं। लेकिन हमारी यही आदतें हमारी हड्डियों को कमजोर कर रही हैं। ऐसे में मल्टीविटामिन कैप्सूल में मौजूद कैल्शियम, विटामिन डी और विटामिन के खासतौर पर हड्डियों को स्वास्थ्य प्रदान करते हैं। खासतौर पर इनमें मौजूद कैल्शियम हड्डियों को मजबूती प्रदान करता है और उनके सही विकास में मदद करता है।


4. त्वचा संबंधित बीमारियों से बचाता है (Prevents skin related diseases)

मल्टीविटामिन टैबलेट आपकी त्वचा के स्वास्थ्य को सुधारने में मदद करता है और साथ ही यह कुछ त्वचा संबंधित बीमारियों से भी आपकी रक्षा करता है। खासतौर पर इसमें मौजूद विटामिन ए आपकी त्वचा के लिए महत्वपूर्ण है। ये स्किन सेल्स को ताजगी देता है और त्वचा को नर्म, कोमल और स्वस्थ बनाए रखने में मदद करता है। इसके अलावा इसमें मौजूद विटामिन ए भी त्वचा की रक्षा करता है। ये सूर्य की किरणों से होने वाले डैमेज को रोकता है।

त्वचा की सेहत को बरकरार रखने के लिए लोग विटामिन ए कैप्सूल का भी इस्तेमाल करते हैं। साथ ही मौजूद विटामिन सी एंटीऑक्सीडेंट के तौर पर काम करता है जिससे फ्री रेडिकल्स त्वचा को नुकसान नहीं पहुंचा पाते हैं। 


यह भी पढ़ें: Fish oil capsules benefits in Hindi


5. बालों और नाखूनों के लिए फायदेमंद  (Very beneficial for hair and nails)

Hair Vitamin with DHT Blockers | Biotin and Bhringraj 100% Vegetarian hair vitamins to combat deficiency that leads to hair loss

मल्टीविटामिन कैप्सूल में बायोटिन पाया जाता है जिसके बारे में हमने आपको बायोटिन टैबलेट के फायदे ब्लॉग में विस्तार से बताया था। बायोटिन बालों के लिए एक महत्वपूर्ण पोषक तत्व है और ये बालों को मजबूती देता है और बाल झड़ने की समस्या को कम करता है। साथ ही इनमें पाए जाने वाले विटामिन ए बालों के फॉलिकल्स को नुकसान से बचाने में मदद करता है और उनके विकास में सहायता करता है।

बालों के साथ ही यह नाखूनों के स्वास्थ्य के लिए भी जरूरी है क्योंकि इसमें विटामिन बी7, जिंक, आयरन, विटामिन डी और विटामिन ई मौजूद होते हैं जो नाखूनों के स्वास्थ्य को सुधारने के लिए महत्वपूर्ण होते हैं। जहां विटामिन बी7 नाखूनों को मजबूती देता है तो वहीं विटामिन ई नाखूनों को होने वाले नुकसानों से बचाता है। अगर आप बालों की किसी समस्या से जूझ रहे हैं तो सबसे पहले Traya Hair Test जरूर दें ताकि हमारे एक्सपर्ट समस्या को समझ कर सही समाधान दे सकें।


6. रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाता है (Strengthens immune system)


Multivitamin Capsule इम्यून सिस्टम यानी प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए भी फायदेमंद हैं क्योंकि ये आपके शरीर को जरूरी विटामिंस और मिनरल्स प्रदान करते हैं। जैसे विटामिन सी एक एंटीऑक्सीडेंट है जो इम्यून सिस्टम को मुक्त कड़ों से बचाता है। इसके बाद इसमें मौजूद विटामिन डी इम्यून सिस्टम को बैक्टीरिया और वायरस से बचाने में मदद करता है जिससे इन्फेक्शन नहीं होता।

इन कैप्सूल्स में मौजूद जिंक जहां प्रतिरक्षा प्रणाली के सेल्स को बनाने और रिपेयर करने में मदद करते हैं तो वहीं सेलेनियम भी शरीर के सेल्स को फ्री रेडिकल्स से बचाने का कार्य करता है। इस तरह, ये सभी पोषक तत्व मिलकर हमारे इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाते हैं जिससे हमारी कई रोगों से रक्षा होती है।


7. हृदय का स्वास्थ्य बेहतर करता है (Multivitamin tablets improve heart health)

मल्टीविटामिन कैप्सूल हृदय को स्वस्थ रखने में भी अहम भूमिका निभाते हैं। आइए जानते हैं कि कैसे:

  • ‌विटामिन बी1 हमारे दिल की मांशपेशियों को सेहतमंद रखता है
  • ‌विटामिन बी2 हमारे हृदय को ऑक्सीजन प्रदान करने में मदद करता है
  • ‌विटामिन बी3 हृदय के कोलेस्ट्रॉल के स्तर के कम करने में मदद करता है
  • ‌विटामिन बी6 हृदय के रक्त वाहिकाओं को सेहतमंद रखता है
  • ‌विटामिन बी12 रेड ब्लड सेल्स के लिए महत्वपूर्ण है
  • ‌विटामिन सी हृदय को मुक्त कणों से बचाता है
  • ‌मैग्नीशियम हृदय की मांशपेशियों को रिलैक्स करता है
  • ‌पोटैशियम ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने में मदद करता है
  • ‌अंत में फोलेट रक्त वाहिकाओं को सेहतमंद रखता है

तो इस तरह आपने देखा कि किस प्रकार मल्टीविटामिन कैप्सूल में मौजूद विभिन्न पोषक तत्व हृदय के स्वास्थ्य को बेहतर करते हैं। हालांकि, हृदय संबंधित समस्याओं के लिए आपको सीधे इन कैप्सूल्स का सेवन करने के बजाय डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।


8. गर्भवती महिलाओं के लिए वरदान (Boon for pregnant women)

भ्रूण के विकास के लिए मल्टीविटामिन कैप्सूल काफी महत्वपूर्ण होता है। डॉक्टर भी गर्भावस्था के दौरान इसके सेवन की सलाह देते हैं। इसमें मौजूद फोलेट (Folate) एक विटामिन है जो बच्चे की Neural Tube Defects (NTDs) जैसे सीरियस कॉम्प्लिकेशन से बचाने में मदद करता है। साथ ही इनमें मौजूद आयरन बच्चे के दिमाग और पूरे शरीर के विकास में मदद करता है।

गर्भावस्था के दौरान महिलाओं में आयरन की कमी हो जाती है और इसकी वजह से न सिर्फ महिलाओं पर बल्कि भ्रूण पर भी बुरा असर पड़ता है। ऐसे में मल्टीविटामिन कैप्सूल में मौजूद आयरन काफी महत्वपूर्ण हो जाता है। अगर आप गर्भवती हैं तो आपको इसके सेवन से संबंधित अपने डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए।


9. बुजुर्गों का स्वास्थ्य बेहतर करता है (Improves health of elderly people)


उम्र बढ़ने के साथ ही शरीर में कई दिक्कतें आने लगती हैं। खासतौर पर शरीर में विटामिंस की कमी होने लगती है जिससे हड्डियों का कमजोर होना, कम दिखाई देना, हृदय स्वास्थ्य का खराब होना, याददाश्त का कमजोर होना आदि शामिल है। ऐसे में Multivitamin tablet uses in Hindi बुजुर्गों के लिए बड़े काम की चीज है।

मल्टीविटामिन टैबलेट में मौजूद पोषक तत्व बुजुर्गों के इम्यूनिटी सिस्टम को बेहतर करने के साथ ही, उनकी हड्डियों को भी मजबूत बनाता है। इसमें मौजूद विटामिन डी और कैल्शियम जहां हड्डियों को मजबूत बनाए रखता है तो वहीं विटामिन बी12 शरीर में ऊर्जा को बढ़ाते हैं। इसके अलावा, इसमें मौजूद विटामिन ए दृष्टि, प्रतिरक्षा प्रणाली और त्वचा के स्वास्थ्य को बेहतर रखने में अहम भूमिका निभाते हैं।


10. तनाव को कम करता है (Helps reduce stress)

रोजाना अगर आप मल्टीविटामिन का सेवन करते हैं तो तनाव और चिंता के स्तर में कमी आती है। National Library of Medicine में छपी एक रिपोर्ट The effect of multivitamin supplementation on mood and stress में यह बताया गया है कि मल्टीविटामिन टैबलेट का इस्तेमाल करने से तनाव को कम किया जा सकता है। 

जो व्यक्ति इसका सेवन करते हैं उनमें निम्नलिखित फायदे दिखने लगते हैं:

  • ‌तनाव संबंधित हार्मोन कॉर्टिसोल का कम स्तर
  • ‌कम ब्लड प्रेशर
  • ‌मांसपेशियों के तनाव में कमी
  • ‌नींद की गुणवत्ता में सुधार 

ये सभी कहीं न कहीं व्यक्ति के मूड और तनाव से जुड़े होते हैं। जब ये फायदे शरीर को प्राप्त होने लगते हैं तो स्वतः ही व्यक्ति में तनाव कम होता है और उसका मूड भी बेहतर बनता है। टैबलेट में मौजूद विटामिन बी कॉम्प्लेक्स, मैग्नीशियम, जिंक और ओमेगा 3 फैटी एसिड्स तनाव को नियंत्रित करने में मदद करते हैं। उम्मीद है कि आपको multivitamin multimineral capsules uses in hindi से सम्बंधित सभी प्रश्नों के उत्तर मिल गए होंगे।


Multivitamin tablet side effects in Hindi (मल्टीविटामिन टैबलेट के नुकसान)

Multivitamin tablet side effects in Hindi (मल्टीविटामिन टैबलेट के नुकसान)

जहां मल्टीविटामिन टैबलेट के फायदे हैं तो वहीं इसके कुछ नुकसान भी हैं जिन्हें नजरंदाज नहीं किया जाना चाहिए। सबका शरीर अलग अलग होता है और इसलिए जरूरी नहीं है कि सबको इसके फायदे ही हों, कुछ व्यक्तियों को इसके साइड इफेक्ट्स भी देखने पड़ सकते हैं। आमतौर पर निम्नलिखित मल्टीविटामिन साइड इफेक्ट्स देखने को मिलते हैं:

  • ‌पेट खराब होना
  • ‌डायरिया
  • ‌पेट में गैस बनाना
  • ‌सिर दर्द
  • ‌जी मिचलाना 

ये साइड इफेक्ट आपको तभी देखने को मिलेंगे जब आप बिना डॉक्टर की सलाह के इसका सेवन शुरू कर देंगे। इसके अलावा, आपको हमेशा ओवरडोज से बचना चाहिए। अगर आप इसका ओवरडोज ले लेते हैं तो आपको कई गंभीर समस्याएं झेलनी पड़ सकती हैं जैसे किडनी से संबंधित दिक्कतें, लीवर का खराब हो जाना और हृदय संबंधित रोग आदि। 

साथ ही, अगर आप पहले से किसी भी प्रकार की कोई दवा ले रहे हैं तो मल्टीविटामिन टैबलेट का सेवन नुकसानदायक हो सकता है। इसलिए हम यही सलाह देते हैं कि इसका सेवन उचित मात्रा में करें, डॉक्टर की परामर्श के साथ करें। 


शरीर में मल्टीविटामिन की कमी के कारण (Reasons for multivitamin deficiency in the body)

शरीर में मल्टीविटामिन की कमी के कारण (Reasons for multivitamin deficiency in the body)

 

शरीर में मल्टीविटामिन की कमी होने के कई कारण होते हैं। आइए उन सभी कारणों को संक्षेप में समझते हैं: 

  • असंतुलित आहार: अगर आप असंतुलित आहार लेते हैं तो आपके शरीर में मल्टीविटामिन की कमी हो सकती है
  • उम्र: जैसे जैसे उम्र बढ़ती है और इंसान बूढ़ा होने लगता है, उसके शरीर में मल्टीविटामिन को एब्जॉर्ब करने या अवशोषित करने की क्षमता कम होती जाती है
  • गर्भावस्था: गर्भावस्था के दौरान भी शरीर में इसकी कमी हो जाती है।
  • ‌कम नींद: अगर आप 7 से 8 घंटे की नींद नहीं लेते हैं तो आपके शरीर में विटामिंस की कमी हो सकती है।
  • ज्यादा स्ट्रेस लेना: अक्सर ज्यादा तनाव लेने वाले व्यक्तियों में मल्टीविटामिंस की कमी देखी जाती है।

ये कुछ ऐसे कारण हैं जिनकी वजह से शरीर में जरूरी सभी विटामिंस की कमी पूरी नहीं हो पाती है। अगर आप अपने शरीर में निम्नलिखित लक्षण देखें तो समझ जाइए कि आपके शरीर में भी इसकी कमी हो गई है:

  • ‌जल्दी थकावट महसूस करना
  • ‌हमेशा कमजोरी महसूस होना
  • ‌बालों का झड़ना
  • ‌नाज़ुक नाखून
  • ‌रूखी त्वचा
  • ‌हमेशा पेट में गैस बनाना
  • ‌डायरिया से पीड़ित होना
  • ‌हमेशा सिर दर्द होना
  • ‌जी मिचलाना

मल्टीविटामिन कैप्सूल में पाए जाने वाले पोषक तत्व (Nutrients found in multivitamin capsules)

Multivitamin Capsules में ढेरों अलग अलग प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते हैं जो शरीर को कई प्रकार से लाभ पहुंचाते हैं। अगर आपके शरीर को दैनिक आहार से सभी पोषक तत्वों, खासकर कि विटामिंस की कमी पूरी नहीं हो पा रही है तो आप इसका सेवन कर सकते हैं। आप नीचे दिए टेबल की मदद से विस्तारपूर्वक जान सकते हैं कि इसमें कौन कौन से पोषक तत्व पाए जाते हैं और उनके शरीर को क्या फायदे प्राप्त होते हैं।


विटामिन

लाभ

विटामिन ए

दृष्टि के लिए आवश्यक, प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है

विटामिन बी1

ऊर्जा उत्पादन के लिए आवश्यक, हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है

विटामिन बी2

ऊर्जा उत्पादन के लिए आवश्यक, त्वचा और बालों के स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है

विटामिन बी3

ऊर्जा उत्पादन के लिए आवश्यक, तंत्रिका तंत्र के कार्य को बढ़ावा देता है

विटामिन बी5

ऊर्जा उत्पादन के लिए आवश्यक, हार्मोन उत्पादन को बढ़ावा देता है

विटामिन बी6

ऊर्जा उत्पादन के लिए आवश्यक, मस्तिष्क के कार्य को बढ़ावा देता है

विटामिन बी7

ऊर्जा उत्पादन के लिए आवश्यक, बालों, त्वचा और नाखूनों के स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है

विटामिन बी9

कोशिका विभाजन के लिए आवश्यक, गर्भावस्था के दौरान महत्वपूर्ण

विटामिन बी12

तंत्रिका तंत्र के कार्य के लिए आवश्यक, लाल रक्त कोशिकाओं के उत्पादन को बढ़ावा देता है

विटामिन सी

प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत करता है, घाव भरने को बढ़ावा देता है

विटामिन डी

हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए आवश्यक, कैल्शियम के अवशोषण को बढ़ावा देता है

विटामिन ई

कोशिकाओं को हानिकारक पदार्थों से बचाता है, हृदय स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है

विटामिन के

रक्त के थक्के जमने से बचाने के लिए आवश्यक



तो इस तरह आपने देखा कि मल्टीविटामिन कैप्सूल के फायदे क्या हैं और इनमें कौन कौन से पोषक तत्व पाए जाते हैं। हम आगे विस्तारपूर्वक इसके फायदों पर चर्चा करेंगे और साथ ही आपके अन्य प्रश्नों का जवाब देंगे।


मल्टीविटामिन कैप्सूल की खुराक कितनी लेनी चाहिए (recommended dosage of multivitamin tablet)

मल्टीविटामिन टैबलेट की रिकमेंड डोज अलग अलग व्यक्तियों के लिए अलग अलग हो सकती है। आपको इसकी कितनी खुराक लेनी चाहिए यह ढेरों कारकों पर निर्भर करता है। नीचे हम व्यक्ति की उम्र के हिसाब से इसके डोज की जानकारी दे रहे हैं, हालांकि डॉक्टर से परामर्श आपको अवश्य लेनी चाहिए।

  • ‌गर्भवती महिलाएं: अगर आप गर्भवती हैं या स्तनपान कराती हैं तो आपको अवश्य ही डॉक्टर के परामर्श के बाद मल्टीविटामिन टैबलेट का सेवन करना चाहिए। गर्भवती महिलाएं रोजाना करीब 400 एमजी फॉलिक एसिड ले सकती हैं।
  • छोटे बच्चे: अगर बच्चा 6 माह से लेकर 5 वर्ष की आयु तक का है तो उन्हें आप डॉक्टर की परामर्श के साथ मल्टीविटामिन अवश्य दें। इससे उनका शारीरिक और मानसिक विकास बेहतर होगा।
  • खिलाड़ी: अगर आप एक खिलाड़ी हैं यानि दिनभर अपना पसीना बहाते हैं तो मल्टीविटामिन का सेवन आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। क्योंकि इन टैबलेट्स में क्रिएटिन और अमीनो एसिड पाया जाता है जोकि मांशपेशियों के तनाव को कम करने और फिटनेस को बनाए रखने में सहायक होता है।

निष्कर्ष (Conclusion)

मल्टीविटामिन गोली, टैबलेट या कैप्सूल शरीर के लिए काफी फायदेमंद होते हैं बशर्ते इसकी डोज डॉक्टर के परामर्श के साथ ली जाए। इसके सेवन से आप शरीर को कई रोगों से बचा सकते हैं और साथ ही किसी भी प्रकार की विटामिन या मिनरल की कमी की पूर्ति भी कर सकते हैं। 


अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (Frequently Asked Questions)


1. मल्टीविटामिन गोली के स्वास्थ्य लाभ क्या हैं ?

मल्टीविटामिन की गोली खाने से शरीर में सभी जरूरी विटामिंस और अन्य पोषक तत्वों की पूर्ति होती है। इससे शरीर को ऊर्जा मिलती है, मांसपेशियों का तनाव दूर होता है, बाल और त्वचा का स्वास्थ्य बेहतर बनता है और साथ ही यह तनाव को दूर करने में भी मदद करता है।


2. मल्टीविटामिन टैबलेट के सेवन का सही समय क्या है?

मल्टीविटामिंस का सही सेवन और समय जानने के लिए हमेशा डॉक्टर से ही संपर्क करें। ऐसा इसलिए क्योंकि कई बार इन्हें खाली पेट खाया जाता है तो कई बार भोजन करने के पश्चात। 


3. सबसे अच्छा मल्टीविटामिन टैबलेट कौन सा है ?

मार्केट में ढेरों ब्रांड्स की मल्टीविटामिन टैबलेट मौजूद हैं। हालांकि आपको हमेशा अच्छी गुणवत्ता की टैबलेट का ही चुनाव करना चाहिए। अगर आप डॉक्टर के परामर्श लेते हैं तो आपके शरीर के लिए सबसे फायदेमंद टैबलेट का सुझाव आपको मिलेगा।


4. क्या रोजाना मल्टीविटामिन लेना अच्छा है ?

आमतौर पर शरीर को जरुरी सभी पोषक तत्वों की पूर्ति के लिए इसका रोजाना सेवन का सुझाव दिया जाता है। आप इसका रोजाना सेवन कर सकते हैं और इससे आपके शरीर को कई भी नुकसान नहीं होगा। हालांकि डॉक्टर से परामर्श लेना अवश्य चाहिए।


5. कमजोरी के लिए कौन सा मल्टीविटामिन अच्छा है ?

अगर आपको सके कमजोरी हो जाती है तो आप विटामिन डी से युक्त मल्टीविटामिन का सेवन कर सकते हैं। इसके रोजाना सेवन से न सिर्फ आपकी भूख बढ़ेगी बल्कि आपका शरीर को पर्याप्त एनर्जी मिलेगी और थकान भी दूर होगी।


References



अस्वीकरण: यह ब्लॉग सिर्फ सामान्य जानकारी के लिए है न कि किसी बीमारी के इलाज के लिए। आपको सलाह दी जाती है कि किसी भी रोग या शारीरिक समस्या के लिए सबसे पहले डॉक्टर से संपर्क करें।

files/author_Dr.-Shailendra-Chaubey-BAMS_300x_3fb01719-6325-4801-b35b-3fb773a91669.jpg

Dr. Shailendra Chaubey, BAMS

Ayurveda Practioner

A modern-day Vaidya with 11 years of experience. He is the founder of Dr. Shailendra Healing School that helps patients recover from chronic conditions through the Ayurvedic way of life.

Popular Posts

Leave a comment

Please note, comments need to be approved before they are published.

आपके बाल झड़ने का कारण क्या है?

डॉक्टरों द्वारा डिज़ाइन किया गया Traya का मुफ़्त 2 मिनट का हेयर टेस्ट लें, जो आपके बालों के झड़ने के मूल कारणों की पहचान करने के लिए आनुवांशिक, स्वास्थ्य, जीवनशैली और हार्मोन जैसे 20+ कारकों का विश्लेषण करता है।

हेयर टेस्ट लेTM