Skip to content

खजूर खाने के फायदे और नुकसान | Khajur Khane ke fayde


Published:
Updated:
image

क्या आप जानते हैं कि खजूर न सिर्फ आपकी मिठास की तलब को शांत करता है, बल्कि आपके स्वास्थ्य का खजाना भी है? इस विस्तृत ब्लॉग में आप जानेंगे कि कैसे यह छोटा सा फल आपकी सेहत को बदल सकता है। चाहे वो वजन घटाना हो, दिल की सेहत सुधारना हो या फिर त्वचा की चमक बढ़ाना, खजूर के पास हर समस्या का हल है। आइए, हमारे साथ और जानिए कि कैसे खजूर आपके जीवन में मिठास और सेहत दोनों भर सकता है।

खजूर का एक लंबा और समृद्ध इतिहास है, जो प्राचीन काल से चला आ रहा है। प्राचीन समय से इसका इस्तेमाल न सिर्फ स्वाद के लिए बल्कि स्वास्थ्य कारणों के लिए भी किया जाता रहा है । खजूर में मौजूद पोषक तत्व शरीर को कई प्रकार के फायदे पहुंचाते हैं इसलिए इसका सेवन फल और मेवे दोनों तरह से किया जाता है।

खजूर खाने के कई फायदे है जैसे कि इसमें प्रचुर मात्रा में फाइबर, एंटी ऑक्सीडेंट्स, विटामिन और मिनरल पाया जाता है जो पाचन तंत्र को बेहतर करने, रक्तचाप को नियंत्रित करने, वजन बढ़ाने से लेकर अन्य कई फायदे शरीर को पहुंचाता है । हालांकि इसके जहां कई फायदे हैं तो कुछ नुकसान भी हैं । साथ ही अगर आप इसका नियमित सेवन करना चाहते हैं तो आपको कुछ जरूरी बातों का भी ध्यान रखना होगा । 

इसलिए हम आपको इस ब्लॉग के माध्यम से विस्तार से बताएंगे कि खजूर खाने के फायदे और नुकसान क्या हैं, इनका सेवन कैसे और कब करना चाहिए, सही खजूर का चयन कैसे करें । इसके साथ ही इसके सेवन से सम्बंधित अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्नों का जवाब भी हम आपको देंगे। 

खजूर क्या है ? What are Dates (Khajur)

खजूर एक प्रकार का फल है जिसका उत्पादन ताड़ पेड़ से होता है । यह दुनिया का सबसे पुराना खेती किया जाने वाला फल है जिसका स्वाद मीठा और मलाईदार होता है । आमतौर आप इसे सुखा ही खाया जाता है और इसका इस्तेमाल कई प्रकार की मिठाइयों, पेय पदार्थों और व्यंजनों में किया जाता है ।

आज पूरी दुनिया में खजूर की काफी मांग है और इसलिए ये महंगे भी होते हैं । इसका इस्तेमाल चटनी, अचार, मसाले, मिल्कशेक, सलाद, बिरियानी आदि भोज्य पदार्थ बनाने के लिए किया जाता है । साथ ही इसका सेवन शरीर को स्वस्थ रखने और कई बीमारियों से छुटकारा पाने के लिए भी किया जाता है । 

खजूर खाने के फायदे (Benefits of eating Dates)

खजूर में मौजूद पोषक तत्व जैसे फाइबर, प्रोटीन, पोटैशियम, मैग्नीशियम, विटामिन और मिनरल्स से शरीर को कई चौंकाने वाले फायदे मिलते हैं । चलिए विस्तार से उन फायदों को समझते हैं ।

१. हृदय को स्वस्थ रखता है (Promote Heart Health)

कई शोधों में यह पाया गया है कि फाइबर युक्त भोजन करने से शरीर में मौजूद खराब कोलस्ट्रॉल में कमी आती है जिससे हृदय की रक्षा होती है और वह सुचारू रूप से कार्य करता है । खजूर में प्रचुर मात्रा में फाइबर मौजूद होता है जो आपके हृदय की स्वस्थ रखने में मदद करता है ।

साथ ही खजूर में मौजूद मैग्नीशियम और पोटैशियम हृदय संबंधी लाभ पहुंचाते हैं । ये शरीर में मौजूद रक्त वाहिकाओं को स्थिर करके स्वस्थ रक्तचाप में मदद करते हैं जिससे हार्ट अटैक और हृदय संबंधित रोगों से बचा जा सकता है । साथ ही हृदय संबंधित रोगों का एक कारण वजन का बढ़ना भी है, ऐसे में खजूर का उचित सेवन वजन को नियंत्रित करने में सहायक होता है । 

 

२. वजन को नियंत्रित करता है (Helps in Weight Management)

जैसा कि हमने आपको पहले ही बताया, खजूर में प्रचुर मात्रा में फाइबर, एंटीऑक्सीडेंट्स और प्राकृतिक शक्कर मौजूद होता है । ये कई तरीकों से शरीर को फायदे पहुंचाते हैं और वजन को नियंत्रित करने में मदद करते हैं, जैसे:

  • ‌पाचन क्रिया को बेहतर करना और कब्ज़ दूर करना, जिससे व्यक्ति हल्का और बेहतर महसूस करता है।
  • ‌ये शरीर में मौजूद शर्करा स्तर को रेगुलेट करने में मदद करते हैं जिससे आप बार बार भूखा महसूस नहीं करते।
  • ‌ये सूजन और ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करता है, जिससे मोटापा बढ़ने की संभावना कम होती है।

हालांकि खजूर में प्रचुर मात्रा में कैलोरी पाई जाती है और इनके मीठे स्वाद की वजह से इसका सेवन भी अधिक किया जा सकता है, जोकि वजन को नियंत्रित करके के बजाय बढ़ाने का कारण बन सकता है । इसलिए इसका उचित मात्रा में ही सेवन किया जाना चाहिए ।

 

३. उर्जा बढ़ाता है (Helps in increasing Energy)

खजूर का फायदा यह भी है कि इससे आपके शरीर में ऊर्जा बढ़ती है । यह एक प्राकृतिक ऊर्जा का स्रोत है क्योंकि इनमें प्राकृतिक शर्करा जैसे ग्लूकोज, फ्रक्टोज और सक्रोज पाया जाता है । शरीर इन्हें आसानी से ऊर्जा में बदल देता है और जब शरीर को ऊर्जा की जरूरत होती है, तब उसे प्रदान करता है ।

खासकर कि अगर आप एक्सरसाइज करते हैं तो आपको इसका नियमित रूप से उचित सेवन करना चाहिए । एक्सरसाइज के पहले और बाद में इसका सेवन करना फायदेमंद है क्योंकि वे मांसपेशियों और यकृत में ग्लाइकोजन की भरपाई करते हैं और साथ ही थकान और शरीर में पानी की कमी को दूर करते हैं । तो अगर आप इसका सेवन दिन की शुरुआत में करते हैं तो आप पूरे दिन ऊर्जावान महसूस करेंगे ।

 

४. यौन स्वास्थ्य में मददगार (Helpful in Promoting Sexual Wellness)

कुछ शोधों में यह पाया गया है कि खजूर यौन स्वास्थ्य के लिए भी काफी फायदेमंद है । प्राचीन चिकित्सा पद्धतियों में खजूर का इस्तेमाल पुरुष इनफर्टिलिटी का इलाज करने के लिए किया जाता था । अब चलिए विस्तार से समझते हैं कि यह किस प्रकार यौन स्वास्थ्य को बेहतर बना सकता है ।

१. पुरुषों में Sexual Dysfunction का एक कारण खराब पाचन तंत्र और कब्ज भी होता है । खजूर में प्रचुर मात्रा में मौजूद फाइबर पाचन तंत्र को बेहतर करने और कब्ज को दूर रखने में सहायक होता है । 

२. खजूर में विटामिन बी6 मौजूद होता है । हार्मोन्स के उत्पादन प्रक्रिया में विटामिन बी6 की महत्वपूर्ण भूमिका होती है और इसलिए खजूर का नियमित सेवन हार्मोन्स के उत्पादन को बेहतर करता है ।

३. साथ ही खजूर में मैग्नीशियम भी पाया जाता है जोकि मांसपेशियों को आराम देने और रक्त प्रवाह को बेहतर करने में मददगार है । यह सीधे तौर पर यौन स्वास्थ्य से जुड़ा हुआ है । साथ ही इसमें पाए जाने वाले प्रोटीन में अमीनो एसिड पाए जाते हैं जो यौन स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होते हैं ।

 

५. स्वस्थ गर्भावस्था के लिए जरूरी (Good for healthy pregnancy)

अगर आपके मन में भी यह प्रश्न आता है कि क्या प्रेग्नेंसी के दौरान खजूर खाना चाहिए तो इसका उत्तर है हां, बिल्कुल । गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को तेज दर्द का सामना करना पड़ता है लेकिन अगर आप प्रेग्नेंसी के अंतिम 4 सप्ताह में इसका सेवन करते हैं तो यह गर्भावस्था के दौरान प्रसव के पहले चरण को कम करता है ।

साथ ही गर्भावस्था के दौरान कब्ज, कम उर्जा, उच्च रक्तचाप, एनीमिया जैसी समस्याएं भी आम हैं । ऐसे में खजूर में मौजूद प्राकृतिक शर्करा, फाइबर, फोलेट, आयरन, विटामिन के, पोटैशियम और मैग्नीशियम मदद करते हैं और गर्भावस्था के दौरान होने वाली कई समस्याओं को कम या दूर करते हैं । साथ ही इनका गर्भाशय पर ऑक्सीटोसिन जैसा प्रभाव हो सकता है, जो संकुचन को उत्तेजित कर सकता है और रक्तस्राव को कम कर सकता है । 

 

६. हड्डियों को मजबूत बनाता है ( Strengthens Bones )

खजूर हड्डियों के लिए लाभकारी होते हैं क्योंकि इनमें कई प्रकार के मिनरल्स पाए जाते हैं जो हड्डी के स्वास्थ्य के लिए जरूरी हैं । इसमें मौजूद कैल्शियम, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, कॉपर, मैंगनीज और सेलेनियम हड्डियों के स्वास्थ्य के लिए जरूरी होते हैं । कई शोधों में इस बात की पुष्टि की गई है कि अगर आप उचित मात्रा में नियमित खजूर का सेवन करते हैं तो आपको हड्डियां स्वस्थ रहेंगी और ऑस्टियोपोरोसिस (Osteoporosis) का खतरा भी कम होगा ।

एक अन्य शोध में यह पाया गया कि रजोनिवृत्ति (Postmenopausal) के बाद जिन महिलाओं ने 6 महीने तक खजूर खाया, उनमें अस्थि खनिज घनत्व में उल्लेखनीय वृद्धि हुई । साथ ही जिस प्रकार कैल्शियम हड्डियों के लिए लाभकारी होता है ठीक वही फायदे खजूर खा कर भी प्राप्त किया जा सकता है, खासकर कि रजोनिवृत्ति महिलाओं के लिए । 

 

७. रक्तचाप को नियंत्रित करता है (Regulates blood pressure)

खजूर में मौजूद भरपूर पोटैशियम और मिनरल्स रक्तचाप के स्तर को नियंत्रित करने में भी मदद करता है । हार्वर्ड मेडिकल स्कूल की रिपोर्ट भी यही कहती है कि अगर आप अपने उच्च रक्तचाप को नियंत्रित करना चाहते हैं तो आपको अपने आहार में डेट्स यानी खजूर को शामिल अवश्य करना चाहिए । पोटैशियम सोडियम के प्रभाव को बैलेंस करने में मदद करता है जो ब्लड प्रेशर को बढ़ाने का एक कारक है ।

इसके अलावा, खजूर में सोडियम की मात्रा भी काफी कम होती है । चिकित्सकों के अनुसार व्यक्ति को रोजाना 2300 मिलीग्राम से भी कम सोडियम का सेवन करना चाहिए, इसलिए खजूर का सेवन आपके शरीर में सोडियम की मात्रा को कम करता है जिससे रक्तचाप कम होता है । इसके अलावा इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स भी रक्त वाहिकाओं को किसी प्रकार की क्षति से बचाते हैं और साथ ही सूजन को भी कम करते हैं ।

 

८. सूजन को कम करता है (Reduces Inflammation)

खजूर के फायदे यह भी हैं कि यह सूजन को कम करने में सहायक होता है । यह पारंपरिक रूप से सदियों से सूजन के लिए एक प्राकृतिक उपचार के रूप में उपयोग किया जाता रहा है । अब तो विज्ञान ने भी कई शोधों से यह साबित कर दिया है कि खजूर इन्फ्लेमेशन यानी सूजन की स्थिति को बेहतर करता है । दरअसल इसका कारण इसमें मौजूद बायोक्टिव कंपाउंड्स होते हैं जैसे फ्लेवोनॉयड्स (Flavonoids) ।

ये बहुतायत में खजूर में मौजूद होते हैं और एंटीऑक्सीडेंट्स का कार्य करते हैं । ये सूजन को बढ़ाने के लिए कारकों को खत्म करने में मदद करते हैं जिससे सूजन में कमी आती है । इसके साथ ही इसमें मौजूद मैग्नीशियम भी सूजन को कम करने में सहायक होता है ।

 

९. इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाता है ( Strengthen the immune system)

एक बात समझ लीजिए कि अगर आपके शरीर का इम्यून सिस्टम यानि प्रतिरक्षा प्रणाली बेहतर है तो आप 90% से ज्यादा रोगों से स्वतः ही बच जायेंगे । हमारी प्रतिरक्षा प्रणाली तमाम रोगों से लड़ती है । अगर आपके शरीर को प्रतिरक्षा प्रणाली मजबूत है तो यह कैंसर जैसे प्राणघातक बीमारी से भी लड़ सकती है । ऐसे में खजूर आपके प्रतिरक्षा प्रणाली यानि इम्यून सिस्टम को बेहतर बनाने में काफी सहायक होता है ।

दरअसल इसमें कई बायोएक्टिव कंपाइंड्स मौजूद होते हैं जैसे विटामिन सी, विटामिन बी6, पिटैशियम, एंटीऑक्सीडेंट्स फाइबर आदि । ये प्रतिरक्षा प्रणाली को मजबूत बनाने के लिए काफी जरूरी होते हैं । उदाहरण के तौर पर खजूर में मौजूद  विटामिन सी इम्यून सिस्टम के लिए काफी जरूरी तत्व है तो वहीं विटामिन बी6 शरीर में व्हाइट ब्लड सेल्स यानी श्वेत रुधिराणु के उत्पादन के लिए जरूरी होता है जोकि इन्फेक्शन से लड़ता है । 

 

१०. कब्ज के इलाज में सहायक (Helps in treatment of Constipation)

हमारी खान पान की आदतें कुछ ऐसी हैं कि अक्सर हमें कब्ज की शिकायत रहती है । ऐसे में खजूर का गुदा कब्ज के इलाज में सहायक साबित होता है । इसमें प्रचुर मात्रा में फाइबर मौजूद होता है जोकि कब्ज का दुश्मन है । फाइबर मल में मात्रा जोड़ने और आंत को सिकुड़ने के लिए उत्तेजित करने में मदद करता है, जो पाचन तंत्र के माध्यम से मल को स्थानांतरित करने में मदद करता है ।

इसके अलावा इसमें प्राकृतिक शर्करा अल्कोहल भी पाया जाता है जोकि मल को मुलायम करने और उसे स्थानांतरित करने में सहायक होता है । जैसा कि हमने पहले ही आपको बताया, खजूर में मैग्नीशियम की मौजूदगी भी होती है, यह आंत में स्वस्थ बैक्टीरिया के विकास को बढ़ावा देने में मदद करता है जो समग्र आंत स्वास्थ्य में सुधार कर सकता है और कब्ज को रोक सकता है ।

 

११. शरीर को जरूरी पोषक तत्वों की पूर्ति करता है (Storage of helpful nutrients)

अगर आपने ऊपर दिए टेबल पर गौर किया होगा तो पाया होगा कि खजूर में ढेरों प्रकार के पोषक तत्व पाए जाते हैं । इसमें कैलोरीज़, कार्ब्स, फाइबर, प्रोटीन, पोटैशियम, मैग्नीशियम, कॉपर, मैंगनीज, आयरन और विटामिन बी6 मौजूद होता है । ये सभी पोषक तत्व शरीर को सुचारू रूप से कार्य करने देने के लिए बहुत जरूरी होते हैं । ऐसे में अगर आप नियमित खजूर का सेवन करते हैं तो आपको कई चौंकाने वाले फायदे प्राप्त होंगे ।

साथ ही इसमें एंटीऑक्सीडेंट्स की मात्रा भी काफी अधिक होती है । एंटीऑक्सीडेंट्स आपको कई बीमारियों से बचाता है और शरीर को कई स्वास्थ्य लाभ प्रदान करता है । इसलिए अगर आप इसे अपने आहार में शामिल करते हैं तो यह आपके शरीर को जरूरी पोषक तत्वों की पूर्ति करता है।

 

१२. खून की कमी को दूर करता है (Helps in Anaemia)

खजूर में कुछ ऐसे पोषक तत्व और कपाउंड्स होते हैं जो शरीर में खून की कमी को दूर करने में सहायक होते हैं । इसमें आयरन की अच्छी मात्रा मौजूद होती है जो खून में हिमोग्लोबिन की मात्रा को बढ़ाने का काम करता है । इसके अलावा इसमें मौजूद कॉपर आयरन के अवशोषण में मदद करता है । 

खून की कमी का एक कारण फोलेट की कमी भी होती है और इसकी पूर्ति खजूर करता है । खजूर में फोलेट की उचित मात्रा मौजूद होती है जो रेड ब्लड सेल्स के प्रोडक्शन में मदद करता है । इसपर कुछ शोध भी किए गए हैं और पाया गया कि एनीमिया से जूझ रहे लोगों द्वारा खजूर का सेवन करना उनके शरीर में हिमोग्लोबिन की मात्रा में वृद्धि करता है । ऐसे में अगर आपके शरीर में भी खून की कमी है तो अपने डॉक्टर से परामर्श लेकर खजूर का नियमित सेवन कर सकते हैं ।

 

१३.  मानसिक स्वास्थ्य में लाभकारी (Beneficial for mental health)

वर्तमान में एक बड़ी जनसंख्या मानसिक बीमारियों से जूझ रही है । मानसिक बीमारियां अन्य किसी भी बीमारी से ज्यादा जानलेवा होती हैं और इंसान को अंदर से खोखला कर देती हैं । इस परिस्थिति में भी खजूर आपकी मदद कर सकता है । दरअसल खजूर में विटामिन बी6 की मौजूदगी होती है और यह सेरोटोनिन और नॉरएड्रेनालाईन के उत्पादन में मदद करता है जो कि मूड को नियंत्रित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं ।

साथ ही जहां इसमें मौजूद मैग्नीशियम तनाव और चिंता को कम करने में मदद करता है तो वहीं पोटैशियम मस्तिष्क के कार्य को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है । इसके अलावा खजूर में प्रचुर मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट्स भी मौजूद होते हैं जो मस्तिष्क को नुकसान से बचाते में मदद करते हैं ।  हालांकि आगर आप मानसिक स्वास्थ्य से जूझ रहे हैं तो तुरंत आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए । 

 

१४. खजूर बालों के लिए भी फायदेमंद (Beneficial for Hair)

सिर की त्वचा में ब्लड सर्कुलेशन के लिए आयरन आवश्यक होता है और इसकी पूर्ति खजूर के माध्यम से हो सकती है । जी हां, खजूर में प्रचुर मात्रा में आयरन मौजूद होता है जो आपके सिर की त्वचा में रक्त के प्रवाह को बढ़ाता है जिससे बालों में वृद्धि होती है  । साथ ही खजूर में मौजूद आयरन बालों के रोम को मजबूत करने में भी मदद करता है, जिससे बालों के झड़ने का खतरा कम हो जाता है ।

इसके अलावा, खजूर में एंटीऑक्सीडेंट्स की मात्रा भी प्रचुर होती है जिससे यह वातावरण की वजह से बालों को होने वाले नुकसान से भी बचाता है । अक्सर ऐसा देखा जाता है कि लोगों के बाल समय से पहले ही रंग बदलने लगते हैं और भूरे होने लगते हैं, इस परिस्थिति में खजूर में मौजूद विटामिन बी5 मेलानिन के उत्पादन को बढ़ाता है जिससे आपके बालों को प्राकृतिक रंग और निखार प्राप्त होता है । हमारे Traya Products भी आपके बालों का ख्याल रखने, उन्हें स्वस्थ और मजबूत बनाने के लिए ही तैयार किए गए हैं जिसका फायदा अबतक हजारों लोग ले चुके हैं । अगर आप भी बाल झड़ने की समस्या से परेशान हैं तो एक बार अवश्य ही हमारे प्रोडक्ट्स को आजमा कर देखें । ज्यादा जानकारी के लिए Traya Products पर जाएँ ।


१५. त्वचा को निखारता है (Helps glow the skin)

खजूर से आपकी त्वचा का स्वास्थ्य भी बेहतर बनता है और त्वचा में निखार भी आता है । दरअसल खजूर में विटामिन ए पाया जाता है जोकि त्वचा की नमी को बनाए रखने और प्राकृतिक निखार के लिए जिम्मेदार होता है । साथ ही इसमें मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स जैसे Carotenoids, Flavonoids और Polyphenols आपकी त्वचा को वातावरण से होने वाले नुकसान जैसे प्रदूषण और यूवी रेज से बचाते हैं । 

अगर आप चाहते हैं कि आपकी त्वचा सुंदर और स्वस्थ बने तो आप रोजाना खजूर का सेवन कर सकते हैं । खासकर कि आप इसे सलाद और स्मूथी में मिला कर खा सकते हैं । इसके साथ ही खजूर पेस्ट बनाकर इसे चेहरे पर मास्क या स्क्रब के रूप में भी लगाया जा सकता है । हालांकि इनके इस्तेमाल से पहले उन्हें अच्छी तरह से धोना भी काफी जरूरी है ।


१६. नींद ना आने की समस्या को दूर करे (May cure insomnia)

अगर आपको नींद न आने की शिकायत है तो आप एक बार खजूर का सेवन करके अवश्य देखें । ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि इसमें मौजूद होता है Tryptophan, जोकि एक अमीनो एसिड है और सेरोटोनिन के उत्पादन में मदद करता है । सेरोटोनिन ही आपके मूड और नींद को रेग्यूलेट करता है और इसलिए खजूर का नियमित सेवन आपकी नींद ना आने की समस्या से छुटकारा दिला सकता है ।

अगर आप चाहते हैं कि आपकी नींद न आने की समस्या से जल्द से जल्द छुटकारा मिले तो इसका सेवन आप दूध या शरबत के साथ कर सकते हैं । सोने से आधा एक घंटे पहले आप एक गिलास दूध के साथ खजूर का सेवन रोजाना करें और फिर फर्क खुद ब खुद आपको समझ आने लगेगा।

 

खजूर खाने के नुकसान (Disadvantages of Eating Dates)

देखिए खजूर खाने का सीधे तौर पर कोई नुकसान नहीं है । यह आपको नुकसान तब पहुंचाएगी जब आप इसका सेवन गलत ढंग से करते हैं । फिर भी चलिए समझते हैं कि खजूर खाने के नुकसान क्या हैं: 

१. वजन का बढ़ना (Increase in unwanted weight)

जैसा कि हमने आपको पहले ही बताया, खजूर में चीनी की मात्रा अधिक होती है । ऐसे में अगर आप खजूर की मात्रा रोजाना अधिकाधिक करते हैं तो यह आपका वजन बढ़ा सकता है । इसलिए आपको हम सलाह देते हैं कि आपको अधिकतम 6 खजूर का सेवन ही प्रतिदिन करना चाहिए ताकि आपके शरीर को उचित मात्रा में ही कार्बोहाइड्रेट्स और कैलोरीज़ प्राप्त हों । 

आमतौर पर एक खजूर में लगभग 66 कैलोरीज़ मौजूद होती हैं यानी अगर आप सिर्फ 5 खजूर का सेवन अगर करते हैं तो आपको कुल 300 कैलोरीज़ मिल जाती हैं । ऐसे में इसका ज्यादा सेवन आपका वजन बढ़ा सकता है । खासकर कि अगर आप वजन घटाने की कोशिश कर रहे हैं तो इसका सेवन सावधानीपूर्वक किया जाना चाहिए ।

२. रक्तचाप को बढ़ा सकता है (May increase blood pressure)

अगर आप हमारे द्वारा सुझाए गए खजूर की मात्रा से ज्यादा सेवन करते हैं तो यह अचानक से आपका रक्तचाप बढ़ सकता है ।  खजूर में भरपूर मात्रा में शुगर यानि शर्करा मौजूद होती है जो रक्तचाप को अचानक से बढ़ाने का कारण बन सकता है ।

३. शिशुओं के लिए हानिकारक (Not good for infants)

गर्भवती महिलाओं के लिए जहां खजूर फायदेमंद है तो वहीं शिशुओं के लिए यह हानिकारक भी । ऐसा इसलिए क्योंकि इसमें मौजूद बैक्टीरिया और एलरजेंस शिशुओं में इन्फेक्शन और एलर्जी का कारण बन सकता है । ऐसे में आपको शिशुओं को इसका सेवन कराने से पहले डॉक्टर से अवश्य परामर्श लेना चाहिए ।

४. एलर्जी का कारण बन सकती है (Can cause allergy)

ऐसा हो सकता है कि आपका शरीर खजूर को लेकर सही प्रतिक्रिया न दे और आपको एलर्जी होने लगे । कई मामलों में यह देखा गया है कि खजूर का सेवन करने से व्यक्तियों में एलर्जी के लक्षण दिखने लगते हैं । दरअसल इसमें सल्फाइड भी मौजूद होती है और इसलिए इसका अत्यधिक सेवन एलर्जी का कारण बन सकता है ।

इससे एलर्जी होने पर आंखों में खुजलाहट, ज्यादा पानी आना और रेडनेस जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है । अगर खजूर खाने से आपको किसी भी प्रकार की कोई परेशानी हो या एलर्जी हो तो तुरंत इसका सेवन बंद कर दें । इस तरह समझ जाइए कि खजूर खाने के फायदे और नुकसान दोनों हैं ।

 

खजूर में मौजूद पोषक तत्वों की सूची (Nutrients in Dates Fruit)

खजूर में प्रचुर मात्रा में पोषक तत्व पाए जाते हैं जो शरीर को कई प्रकार के फायदे पहुंचाते हैं । नीचे दिए गए टेबल में आप देख सकते हैं कि 100 ग्राम खजूर में विभिन्न पोषक तत्वों की मात्रा कितनी होती है और साथ ही वे दैनिक जरूरतों के पोषक तत्वों की मांग को कितने प्रतिशत पूरा करते हैं ।

Nutrient

Amount

% Daily Value

Calories

277

-

Carbs

75 g

25%

Fiber

7 g

28%

Protein

2 g

4%

Fat

0 g

0%

Potassium

696 mg

15%

Magnesium

54 mg

13%

Copper

0.4 mg

40%

Manganese

0.3 mg

13%

Iron

0.9 mg

5%

Vitamin B6

0.2 mg

15%

 

इनके अलावा खजूर में एंटीऑक्सीडेंट्स जैसे पॉलीफेनोल्स की मात्रा भी काफी होती है जिससे कई स्वास्थ्य लाभ मिलते हैं । हम आगे विस्तार से समझेंगे कि खजूर खाने के फायदे क्या हैं । 


सही खजूर को कैसे पहचानें ? (How to identify quality dates)

ज्यादातर संभावना है कि आप खुद खजूर उगाकर या सीधे पेड़ से तोड़कर उसका सेवन नहीं करेंगे अपितु बाजार से ही इसे खरीदेंगे । ऐसे में जरूरी है कि आप सही और उत्तम क्वालिटी का खजूर खरीदें जो वाकई आपके शरीर के लिए फायदेमंद हो । सही और गुणवत्ता पूर्ण खजूर को चुनने के लिए निम्नलिखित बातों पर ध्यान दें:

  • ‌फीके, आसमान रंग या काले धब्बों वाले खजूरों से बचें, क्योंकि ये अधिक पकने या खराब होने का संकेत दे सकते हैं ।
  • ‌खुरदुरी, झुर्रियों वाली त्वचा वाले खजूरों से बचें, क्योंकि यह निर्जलीकरण या पुरानी ताजगी का संकेत दे सकता है ।
  • ‌ताज़ा खजूर मोटा और छूने पर थोड़ा सख्त होना चाहिए, लेकिन कठोर या भंगुर नहीं होना चाहिए । अत्यधिक नरम या गूदेदार लगने वाले खजूरों से बचें, क्योंकि यह अधिक पकने या खराब होने का संकेत दे सकता है ।

खजूर का सही सेवन कैसे करना चाहिए ? (Proper way to consume dates)

खजूर खाने के फायदे कई हैं लेकिन ये फायदे आपको तभी महसूस होंगे, जब आप इसका सेवन सही ढंग से करेंगे । तो चलिए हम आपको बताते हैं कि इसका सही ढंग से सेवन कैसे किया जाए: 

१. इसका सेवन आपको सुबह सुबह ब्रेकफास्ट के वक्त अवश्य करना चाहिए । यह न सिर्फ आपके ब्रेकफास्ट के स्वाद को बदलकर रख देगा बल्कि इसमें मौजूद फाइबर आपकी सेहत भी बेहतर करेगा ।

२. जब भी आपको भूख लगी हो तो आप ज्यादा से ज्यादा 6 खजूर का सेवन कर सकते हैं । इसमें प्रचुर मात्रा में कैलोरीज़ और फाइबर मौजूद होता है जिससे आपकी भूख भी शांत होगी और एनर्जी भी बनी रहेगी ।

३. अगर आप जिम या एक्सरसाइज करते हैं तो इसका सेवन कर सकते हैं । इसका सेवन एक्सरसाइज करने से पहले और बाद में किया जा सकता है जिससे न सिर्फ आपकी परफॉर्मेंस बढ़ेगी बल्कि आप मसल क्रैंप आदि से भी बचेंगे ।

४. अगर आप खजूर का सेवन दूध या दही के साथ करते हैं तो यह आपकी सेहत के लिए काफी फायदेमंद होगा । दूध और दही कैल्शियम, प्रोटीन और प्रोबायोटिक्स के अच्छे स्रोत हैं और उन्हें अगर आप खजूर के साथ मिलाकर खाते हैं तो आपको दोगुने फायदे देखने को मिलेंगे ।


सुबह खाली पेट खजूर खाने के फायदे क्या हैं ? (Benefits of eating dates empty stomach)

रोजाना सुबह खाली पेट खजूर का सेवन करने से शरीर को कई फायदे प्राप्त होते हैं । जैसे पोटेशियम सामग्री के कारण रक्तचाप को नियंत्रित करता है, हृदय स्वास्थ्य में सुधार करता है, कोलेस्ट्रॉल के स्तर को नियंत्रित करता है, ऊर्जा को बढ़ावा देता है, वजन बढ़ाने को बढ़ावा देता है और यौन स्वास्थ्य को बेहतर करता है ।

जैसा कि हमने पहले कहा खजूर खाने के फायदे और नुकसान दोनों हैं इसलिए सुबह सुबह इसका अत्यधिक सेवन डायरिया, पेट दर्द, त्वचा रोग का कारण भी बन सकता है । इसलिए इसका उचित मात्रा में ही सेवन करें ।


महिलाओं के लिए खजूर के फायदे (Benefits of Dates for Women)

महिलाओं को खजूर खाने से कई फायदे मिलते हैं । इसमें मौजूद मिनरल्स, फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट्स महिलाओं को कई फायदे प्रदान करते हैं । इसका महिलाओं को सबसे बड़ा फायदा होता है गर्भावस्था के दौरान, क्योंकि यह गर्भाशय के संकुचन को उत्तेजित करके, गर्भाशय ग्रीवा को पकाकर और प्रसवोत्तर रक्तस्राव को कम करके प्रसव के दौरान मदद करता है । 

इसके साथ ही इसमें अमीनो एसिड, फ्लेवोनोइड और एस्ट्राडियोल युक्त होने से महिलाओं में यौन सहनशक्ति बढ़ाता है जो कामेच्छा, प्रजनन क्षमता और प्रजनन स्वास्थ्य में सुधार कर सकता है । महिलाओं में अक्सर खून की कमी हो जाती है, जिसके लिए भी खजूर फायदेमंद होता है । 


पुरुषों के लिए खजूर के फायदे (Benefits of Dates for Men)

महिलाओं के साथ पुरुषों को भी खजूर खाने से कई फायदे मिलते हैं । खासकर कि यह पुरुषों में सेक्सुअल हेल्थ, स्टैमिना और कामेच्छा को बढ़ाने में मददगार साबित होता है । इसमें मौजूद अमीनो एसिड, फ्लेवोनॉयड्स और एस्ट्रेडियोल यौन प्रदर्शन, शुक्राणु की गुणवत्ता और प्रजनन क्षमता में वृद्धि करते हैं ।

इसके साथ ही अगर आप एक पुरुष हैं और मांसपेशियों में उभार और ताकत चाहते हैं तो भी इसका सेवन कर सकते हैं । खजूर में मौजूद कार्बोहाइड्रेट्स, पोटैशियम और मैग्नीशियम थकान को दूर करते हैं और आपके परफॉर्मेंस को बढ़ाने का कार्य करते हैं । आप रोज रात को सोने से पहले इसका सेवन दूध के साथ कर सकते हैं ।

दूध के साथ खजूर खाने के फायदे (Benefits of eating dates with milk)

दूध और खजूर दोनों साथ में अगर आप सेवन करते हैं तो आपके शरीर को चौंकाने वाले लाभ मिलेंगे । यह पुरुष और महिलाओं दोनों के लिए काफी लाभकारी साबित हो सकता है । यह न सिर्फ आपके सेक्सुअल हेल्थ को बेहतर करेगा बल्कि आपको ऊर्जावान बनाएगा और जल्दी थकने से भी बचाएगा । दूध और खजूर दोनों में ही ढेरों पोषक तत्व जैसे प्रोटीन, कैल्शियम, मैग्नीशियम आदि पाया जाता है जो हड्डियों को मजबूत और स्वस्थ रखने में भी मददगार साबित होगा ।

अगर आप दूध और खजूर दोनों साथ ही सेवन करने की योजना बना रहे हैं तो आपको इनका सेवन हमेशा रात में सोने से एक घंटे पहले करना चाहिए । साथ ही ध्यान रखें कि खजूर की मात्रा ज्यादा न हो । इसके अलावा रात को दूध और खजूर खाने के अन्य फायदे भी हैं जैसे मानसिक स्वास्थ्य बेहतर बनता है और खून की कमी भी दूर होती है ।


अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न (Frequently Asked Questions)

१. खजूर कब नहीं खाना चाहिए ?

अगर आप अपना वजन घटाने की कोशिश कर रहे हैं तो आपको खजूर नहीं खाना चाहिए । इसके साथ ही अगर आप डायबिटीज, इरेटेबल बाउल सिंड्रोम, अस्थमा आदि से जूझ रहे हैं तो आपको इसका सेवन नहीं करना चाहिए ।

२. १ दिन में कितने खजूर खाने चाहिए ?

1 दिन में आपको अधिकतम 6 से 8 खजूर ही खाने चाहिए । अगर आप इसे ज्यादा सेवन करते हैं तो आपके शरीर को फायदे की जगह नुकसान झेलना पड़ सकता है । इसलिए इसका उचित मात्रा में ही सेवन किया जाना चाहिए ।

३. गर्मियों में खजूर खा सकते हैं क्या ?

जी हां, आप गर्मियों में भी खजूर खा सकते हैं जिससे आपको डिहाइड्रेशन से छुटकारा मिलेगी । गर्मी के मौसम में खजूर का सेवन करना आपके शरीर के लिए फायदेमंद है हालांकि मात्रा का ध्यान रखें ।

४. खजूर खाने का सबसे अच्छा समय कौन सा है ?

खजूर खाने का सबसे अच्छा समय सुबह है । आप अगर रोजाना सुबह ब्रेकफास्ट के साथ या खाली पेट खजूर खाते हैं तो आपको ढेरों स्वास्थ्य संबंधित फायदे मिलेंगे ।

५. मर्दाना ताकत के लिए खजूर कैसे खाएं ?

अगर आप मर्दाना ताकत बढ़ाने के लिए खजूर का सेवन करना चाहते हैं तो इसका सेवन रोजाना रात को सोने से पहले एक गिलास दूध के साथ करें । इसके साथ ही अगर आप वर्कआउट/जिम करते हैं तो वर्कआउट से पहले और बाद में इसका सेवन करें । 

६. दूध के साथ खजूर कैसे खाएं ?

दूध के साथ खजूर का सेवन हमेशा उबाल कर करना चाहिए । आपको दूध के साथ ही खजूर को उबाल लेना चाहिए और इसके बाद इसका सेवन करना चाहिए जिससे आपको कई फायदे प्राप्त होंगे ।


निष्कर्ष (Conclusion)

उम्मीद है कि आप विस्तारपूर्वक समझ गए होंगे कि खजूर खाने के फायदे और नुकसान क्या हैं, इसके सेवन कब करना चाहिए, सही खजूर कैसे पहचानें आदि । खजूर खाना सेहत के लिए काफी फायदेमंद हो सकता है बशर्ते आप इसका उचित मात्रा में सेवन करें और Khajur ke fayde आर्टिकल में दिए गए बातों का पालन करें ।

अस्वीकरण: इस आर्टिकल में दी गई जानकारी सिर्फ सामान्य जानकारी के लिए है, न कि किसी बीमारी के इलाज के लिए । आर आप किसी भी बीमारी से जूझ रहे हैं तो आपको सबसे पहले डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए ।

References

8 Proven Health Benefits of Dates by Amy Richter, RD, Nutrition — By Brianna Elliott, RD — Updated on October 13, 2022:

https://www.healthline.com/nutrition/benefits-of-dates

Health Benefits of Dates | By Cynthia Sass, MPH, RD  Updated on June 14, 2023 Medically reviewed by Roxana Ehsani, RD
https://www.health.com/nutrition/groceries/health-benefits-dates

Dates and All Their Benefits A high fiber fruit | By Michelle Pugle Published on May 22, 2023 | Medically reviewed by Elizabeth Barnes, RDN https://www.verywellhealth.com/dates-benefits-7498192

files/author_Dr.-Shailendra-Chaubey-BAMS_300x_3fb01719-6325-4801-b35b-3fb773a91669.jpg

Dr. Shailendra Chaubey, BAMS

Ayurveda Practioner

A modern-day Vaidya with 11 years of experience. He is the founder of Dr. Shailendra Healing School that helps patients recover from chronic conditions through the Ayurvedic way of life.

Popular Posts

Leave a comment

Please note, comments need to be approved before they are published.

What's Causing Your Hair Fall?

Take Traya's FREE 2-minute hair test, designed by doctors that analyses 20+ factors like genetics, scalp health, lifestyle, and hormones, to identify the root causes of your hair fall.

Take The Free Hair TestTM