Skip to content

कैस्टर ऑयल के फायदे और नुकसान | Castor Oil ke Fayde aur Nuksaan in Hindi


Published:
Updated:
image

कास्टर ऑयल, कास्टर बीन पौधे से आता है, जिसे विश्व भर में कई सदियों से खेती किया जा रहा हैअरंडी के तेल का उपयोग हमारे सम्प्रेषण के दिनों से हो रहा हैइसका उल्लेख भारतीय आयुर्वेद में भी मिलता है, जहाँ यह आयुर्वेदिक चिकित्सा का महत्वपूर्ण हिस्सा हैइसकी गाढ़ घनत्व और रासायनिक संरचना इसे ऊपरी तरीके से लगाया जाता है या छोटी मात्रा में सेवन किया जाता है तो इसका विशेष रूप से लाभकारी बनाता है

Castor oil in Hindi (कैस्टर ऑइल इन हिंदी) में अरंडी का तेल, एरंड का तेल, रेंडी का तेल, अरण्डी का आयल भी कहा जाता है। अरंडी के तेल का उपयोग आयुर्वेदिक औषधियों और खाद्य संदर्भों में किया जाता है, लेकिन इसका सही तरीके से उपयोग करना महत्वपूर्ण है, क्योंकि यह नकारात्मक प्रभाव पैदा कर सकता हैइसलिए, आइए हम कैस्टर ऑयल के फायदे और नुकसान के बारे में विस्तार से जानते हैं:

अरंडी का तेल क्या है? (What is castor oil?)

कास्टर तेल एक सब्जीय तेल है, जो पारदर्शी होता है और पीले रंग का दिखता हैयह कास्टर बीन्स से प्राप्त किया जाता है और यह एक चरबीय तेल होता हैइसे रिसिनस तेल भी कहा जाता हैकास्टर तेल को कास्टर बीन्स से या तो दबाकर या रसायनिक निकालने से प्राप्त किया जाता हैइस तेल का प्राचीन काल से बालों के विकास, त्वचा के लाभ आदि के लिए उपयोग किया जाता है

कैस्टर ऑयल के फायदे (Castor oil benefits in Hindi)

१) लैक्सटिव प्रभाव (Has Laxative effect)

कास्टर तेल एक प्रबल प्राकृतिक लैक्सटिव है जो कब्ज से तुरंत राहत प्रदान कर सकता हैयह आंतों की मांसपेशियों को प्रोत्साहित करके काब्ज को पाचन तंतु में आसानी से हटाने में मदद करता हैयह कास्टर तेल का उपयोग FDA (संयुक्त राष्ट्र खाद्य और औषधियों का प्रशासन) द्वारा मान्य है

२) कैस्टर ऑयल है मॉइस्चराइज़र (Acts as a Skin Moisturizer)

त्वचा पर लगाया जाने पर, कास्टर तेल गहरी नमी प्रदान करता है और नमी को बंद करने में मदद कर सकता हैकास्टर तेल में मौनी अम्ल होते हैं जो त्वचा को मैं बनाने में मदद करते हैं, यह विटामिन का बेहतर विकल्प माना जाता हैयह खासकर उन लोगों के लिए उपयुक्त है जिनकी त्वचा रूखी या फटी हुई है

३) घावों की देखभाल (Wound Healing Properties)

कास्टर तेल छोटे कटाव, घाव और चोटों की चिकित्सा में मदद कर सकता हैयह इसकी एंटीमाइक्रोबियल गुणों के कारण घावों को संक्रमण से बचाने में भी मदद कर सकता हैकास्टर तेल को डॉक्टर की सलाह या पर्यवेक्षण के तहत ही घावों पर उपयोग किया जाना चाहिए

४) प्रसूति प्रारंभ करने का प्रोत्साहण (Castor oil for inducing labor)

 गर्भवती महिलाएं प्रसूति प्रारंभ करने के लिए कास्टर तेल का उपयोग कर सकती हैं, लेकिन इसे केवल चिकित्सकीय पर्यवेक्षण और अंतिम उपाय के रूप में किया जाना चाहिएकास्टर तेल गर्भावस्था के आरंभ को सहायक बनाने के संभावना से गर्भावस्था की शुरुआत में मदद कर सकता हैगर्भवती महिला के रूप में किसी भी महिला को कास्टर तेल का उपयोग केवल उनके स्त्री रोग विशेषज्ञ से परामर्श के बाद ही करना चाहिए

५) अरण्डी का तेल के फायदे सूजन को कम करने के लिए (Castor oil for reduced swelling)

 कास्टर तेल सूजन को कम करने के लिए उपयोगी है, जिसके कारण इसे ऊपरी तरीके से लगाने पर सूजन और फुफकार को कम करने में मदद कर सकता हैयह आर्थराइटिस में सुधार करने में मदद कर सकता है

६) कैस्टर तेल कब्ज के लिए (Castor Oil for Constipation)

कास्टर तेल कोई विशेष स्वास्थ्य उद्देश्य के लिए FDA द्वारा मंजूरी प्राप्त किया है, जो कि सांद्रवी कब्ज के तात्काल राहत प्रदान करने के रूप में काम करता है। इसमें रिसिनोलिक एसिड होता है, जो आंतों में रिसेप्टर्स से जुड़ता है और मांसपेशियों को संकुचित करने की प्रोत्साहित करता है, जिससे मल को कोलन के माध्यम से होने में मदद मिलती है। कास्टर तेल को कभी-कभी कोलोनोस्कोपी जैसे चिकित्सा प्रक्रिया से पहले कोलॉन को शोधन के लिए भी प्रयुक्त किया जाता है, हालांकि चिकित्सा पेशेवर द्वारा निर्धारित विकल्प के साथ बेहतर परिणाम दिलाने में सक्षम हैं।

बालों के विकास के लिए अरण्डी का तेल के फायदे (Castor oil for hair)

Benefits of Castor Oil for Hair, कैस्टर ऑयल के फायदे और नुकसान, बालों के विकास के लिए अरण्डी का तेल के फायदे

१) बालों के रोमचिड़ों को प्रोत्साहित करता है (Stimulates Hair Follicles)

कैस्टर तेल को बालों के रोमचिड़ों को प्रोत्साहित करने की उन्नत क्षमता के लिए व्यापक रूप से मान्यता प्राप्त है, जिससे बालों का विकास बढ़ता हैस्कैल्प पर लगाने पर, कैस्टर तेल में मौजूद रिसिनोलिक एसिड बालों के रोमचिड़ों की रक्त संचार को सुधारने और बालों के विकास को प्रोत्साहित करने में मदद करता है

२) बालों को मोटा और मजबूत बनाता है (Thickens and Strengthens Hair)

विकास को प्रोत्साहित करने के साथ-साथ, कैस्टर तेल आपके बालों को मोटा और मजबूत दिखा सकता हैयह बाल के रूम में गहराई तक प्रवेश करता है, जिससे यह टूटने और क्षति के प्रति कम प्रवृत्त होता है

३) बालों के झड़ने को रोकता है (Prevents Hair Loss)

कैस्टर तेल टूटने और क्षति जैसे कारकों के कारण होने वाले बालों के झड़ने को कम करने में प्रभावी हो सकता हैआपके बालों की स्वास्थ्य बनाए रखकर और नए विकास को प्रोत्साहित करके, यह पतलापन को रोकने में मदद कर सकता है

 

Castor Oil benefits for hair

४) स्कैल्प समस्याओं का इलाज (Treats Scalp Issues)

बालों के विकास के लिए एक स्वस्थ स्कैल्प महत्वपूर्ण है, और कैस्टर तेल स्कैल्प की स्वास्थ्य में सुधार कर सकता हैयह डैंड्रफ को कम करने, खुजली को शांत करने और फंगल संक्रमण का सामना करने में मदद करता है जो बबालों के विकास के लिए कैस्टर तेल के उपयोग

कैस्टर ऑइल को कैसे उपयोग करें? - How to Consume Castor Oil in Hindi

कास्टर तेल का उपयोग आंतरिक रूप से और बाह्य रूप से दोनों किया जा सकता है। कास्टर तेल के दो-तीन बूंदें दूध के साथ सेवन किया जा सकता है। इसे रात को सोने से पहले गर्म दूध के साथ पीएं, ताकि कब्ज को नियंत्रित कर सकें। यदि आपको यह उपाय उबकाई और अरुचि का अनुभव होता है, तो दूध को फलों के रस से बदल सकते हैं।

कास्टर तेल कैप्सूल

कास्टर तेल को कैप्सूल की रूप में सेवन किया जा सकता है। आप दिन में दो बार अपने भोजन से दो घंटे पहले एक गोली का सेवन कर सकते हैं।

बाह्य लगान

आप 5-6 बूंदें कास्टर तेल का उपयोग करके प्रभावित क्षेत्र में लगा सकते हैं, विशेष रूप से सोने से पहले और रात भर इसे छोड़ दें। आप इसे मालिश भी कर सकते हैं और फिर प्रभावित क्षेत्र में गर्म पैड लगा सकते हैं जिससे जोड़ों का दर्द कम हो।

सावधानी के रूप में, कास्टर तेल का आंतरिक उपयोग करने से पहले डॉक्टर से परामर्श कर सकते हैं। कास्टर बीन्स को कभी भी सीधे खाना नहीं चाहिए, क्योंकि वे खतरनाक और जीवनापायी हो सकते हैं। 

 

अरण्डी तेल के नुकसान (Side Effects of using Castor Oil)

१) पेट दर्द और दस्त (Abdominal Cramps and diarrhea)

कास्टर ऑयल को अत्यधिक मात्रा में खाने से इसकी लैक्सेटिव गुणात्मकता के कारण तीव्र पेट दर्द और अक्सर दस्त हो सकते हैं। ये दर्द असुविधाजनक और व्यवधानकारी होते हैं जबकि दस्त से पेय पदार्थों की कमी हो सकती है।

२) मतली और उल्टी (Nausea/Vomiting)

कास्टर ऑयल खाने से कुछ लोगों में मतली और उल्टी के लक्षण दिख सकते हैं। यह बहुत असुविधाजनक हो सकता है और पेय पदार्थों की कमी बढ़ा सकता है।

३) पेय पदार्थों की कमी (Dehydration due to Diarrhea)

 कास्टर ऑयल से होने वाले लम्बे और गंभीर दस्त से शरीर से पानी की मात्रा शरीर में प्रवेश करने से अधिक बह जाती है, जिससे पेय पदार्थों की कमी हो जाती है। पेय पदार्थों की कमी से शरीर में अत्यधिक प्यास, सूखी छााती, गहरे रंग की मूत्र और कमजोरी जैसे लक्षण होते हैं।

४) एलर्जिक अभिक्रियाएँ (Allergic reactions)

कुछ लोग कास्टर ऑयल से एलर्जिक हो सकते हैं। जब ऑयल को त्वचा के संपर्क में लाया जाता है तो एलर्जिक अभिक्रियाएँ त्वचा में लालिमा, खुजली, सूजन या खाज के रूप में दिखाई दे सकती हैं।

५) पाचन तंत्र में असुविधा (Indigestion)

दस्त के अलावा, कास्टर ऑयल से पेट में फूलना, गैस और पेट दर्द जैसी सामान्य पाचन तंत्र से संबंधित असुविधाएं भी हो सकती हैं। ये लक्षण परेशान करने वाले और कुछ समय के लिए बने रहने वाले होते हैं।

६) झनझनाहट और दर्द (Tingling and Pain)

 त्वचा पर लगाने पर कास्टर ऑयल से त्वचा में झनझनाहट की अनुभूति या दर्द हो सकता है। खासकर अगर ऑयल लम्बे समय तक त्वचा पर रहता है तो कुछ लोगों के लिए यह बेहद ख़राब हो सकता है।

कास्टर ऑयल के दुष्परिणाम ( Side Effects of using Castor Oil)

७) त्वचा में सूजन (Swelling on Skin)

 त्वचा पर कास्टर ऑयल के प्रयोग से त्वचा में सूजन भी हो सकती है। कुछ लोगों में इस ऑयल के प्रयोग से त्वचा में सरमा, खुजली या जलन की समस्या हो सकती है।

८) हार्मोनल बदलाव (Helps with Hormonal imbalance)

कास्टर ऑयल का अधिक या लंबे समय तक प्रयोग कुछ लोगों में हार्मोन संतुलन का कारण बन सकता है। विशेष रूप से महिलाओं पर यह मासिक धर्म चक्र और हार्मोन स्तर पर प्रभाव डाल सकता है।

९) गर्भावस्था से संबंधित जोखिम (Pregnancy related issues)

 गर्भवती महिलाएं कास्टर ऑयल के उपयोग में सावधानी बरतनी चाहिए। यह गर्भाशय संकुचन को बढ़ाता है और असमय प्रसव का कारण बन सकता है। गर्भावस्था में इसका उपयोग केवल चिकित्सकीय निगरानी में ही किया जाना चाहिए ताकि भ्रूण को को

कास्टर ऑयल का उपयोग करते समय सावधानियां बरतें (Precautions to take while using Castor Oil)

अरण्डी का तेल के फायदे कई सारे हैं, लेकिन सुरक्षित और प्रभावी उपयोग सुनिश्चित करने के लिए कुछ सावधानियां बरतना जरूरी है। इसलिए इसके उपयोग से पहले निम्न बातों को ध्यान में रखें:

१) चिकित्सक से सलाह लें (Consult a doctor)

विशेषकर ऑयल को खाने की स्थिति में, उपयोग से पहले अपने स्वास्थ्य विशेषज्ञ से सलाह लें। वो आपकी विशेष स्थिति को ध्यान में रखते हुए डोज और उपयोग का सही तरीका बता सकते हैं।

२) गर्भावस्था और स्तनपान के दौरान (Precautions to be taken when Pregnant)

गर्भवती और स्तनपोषण कर रही महिलाएँ केवल चिकित्सक की सलाह पर ही कास्टर ऑयल का प्रयोग करें। ये प्रसव की प्रक्रिया को बढ़ा सकता है और स्तनपान के दौरान दूध में भी मिल जाता है।

३) डोज का ध्यान (Dosage)

सिफारिश की गई मात्रा से ज्यादा न लें, खासकर ऑयल को खाने की स्थिति में। अधिक मात्रा पेट दर्द, दस्त और पेय पदार्थों की कमी जैसी समस्यायें पैदा कर सकती हैं।

४) त्वचा पर पैच टेस्ट (Do a patch test)

त्वचा पर लगाने से पहले छोटे क्षेत्र पर पैच टेस्ट करें ताकि एलर्जी का पता लग सके। कुछ लोगों में त्वचा संबंधी प्रतिकूल अभिक्रिया हो सकती है।

निष्कर्ष

संक्षेप में कहें तो, कैस्टर ऑयल के फायदे और नुकसान कई सारे है। अरंडी तेल स्वास्थ्य और सौंदर्य के कई लाभ प्रदान करता है, लेकिन इसका उपयोग सतर्कता के साथ करना चाहिए। यह चमकदार त्वचा और बाल की मांसपेशियों को नमी प्रदान करने, कब्ज के लिए प्राकृतिक लैक्सेटिव के रूप में कारगर होने, और घाव भरने और सूजन के लिए एक उपचार के रूप में काम करता है। यह बालों की वृद्धि को उत्तेजित करने, बालों को मजबूत करने और एक स्वस्थ स्कैल्प बनाए रखने की क्षमता इसे बालों की देखभाल रूटीन में एक विविधतापूर्ण योगदान बनाती है।

हालांकि, अरंडी तेल के साथ सतर्कता से पासा बढ़ाना महत्वपूर्ण है। अत्यधिक उपयोग से पाचन तंत्र में असहजता, मतली और उल्टी की समस्या हो सकती है, जबकि कुछ लोगों को शरीर पर लगाने पर एलर्जिक प्रतिक्रियाएं हो सकती हैं। इसके अलावा, लंबे समय तक या अत्यधिक उपयोग से महिलाओं के लिए हार्मोनिक संतुलन को बिगाड़ सकता है। इसलिए, सुरक्षित और लाभदायक अरंडी तेल अनुभव के लिए सिफारिश किए गए मात्राओं का पालन करने, स्वास्थ्य सेवा पेशेवरों की सलाह लेने और उच्च गुणवत्ता वाले उत्पादों को प्राथमिकता देने के लिए बुद्धिमानी होती है। ऐसा करके, आप अरंडी तेल के कई फायदों का लाभ उठा सकते हैं जबकि संभावित प्रतिक्रियाओं को कम कर सकते है।

बाल और स्वास्थ्य के बारे में जानना पसंद है? तो अब तुरंत Traya की कम्युनिटी में शामिल हों! यहाँ हम स्वास्थ्य, बाल, और अधिक के बारे में सच्ची और रोचक जानकारी प्रदान करते हैं जो आपकी सेहत को बेहतर समझने में मदद करेगा!

FAQs (Frequently asked questions)
अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न

१) कैस्टर ऑयल का उपयोग कैसे करें?

कैस्टर तेल को सही तरीके से उपयोग करने के लिए, इसे त्वचा पर मॉइस्चराइज़ करने के लिए लगाएं, बालों के विकास के लिए तलवर और बालों में मसाज करें, या चिकित्सा मार्गदर्शन के तहत एक लैक्सेटिव के रूप में इस्तेमाल करें। इसके अलावा, इसे घावों और त्वचा समस्याओं के लिए ठीक करने के लिए लगाया जा सकता है और अन्य तेलों के साथ मिश्रित करके विशेषज्ञ बाल उपचार के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। हमेशा पैच टेस्ट करें, उच्च गुणवत्ता वाले कैस्टर तेल का चयन करें, और सुरक्षित और लाभदायक उपयोग के लिए अनुशंसित खुराक का पालन करें।

२) कैस्टर ऑयल कब पीना चाहिए?

कैस्टर तेल को खाली पेट पर लेना सबसे अच्छा होता है, विशेष रूप से सुबह के समय, ताकि इसका लैक्सेटिव प्रभाव काम करने के लिए कुछ घंटे का समय हो सके।

३) अरंडी के तेल के साइड इफेक्ट क्या हो सकते हैं?

जबकि कैस्टर तेल लाभदायक हो सकता है, लेकिन अत्यधिक मात्रा में उपयोग करने पर इसके कुछ दुष्प्रभाव हो सकते हैं। अधिक मात्रा में सेवन करने से तेजी से पेट में दर्द, दस्त और ताजगी की कमी हो सकती है क्योंकि इसमें शक्तिशाली लैक्सेटिव गुण होते हैं। कुछ लोगों में मतली और उल्टी हो सकती है। त्वचा पर लगाने पर जलन, खुजली और सूजन जैसे त्वचा प्रतिक्रियाएं हो सकती हैं, विशेष रूप से जब कोई तेल के प्रति संवेदनशील हो। लंबे समय तक या अत्यधिक उपयोग से हार्मोनिक असंतुलन हो सकता है, मासिक धर्म को प्रभावित कर सकता है, इसलिए सिफारिश की गई मात्रा का पालन करना और जरूरत पड़ने पर स्वास्थ्य सेवा विशेषज्ञ की सलाह लेना महत्वपूर्ण है ताकि संभावित दुष्प्रभावों को कम किया जा सके।

४) क्या कैस्टर ऑयल से बाल बढ़ते हैं?

 हाँ, कैस्टर तेल बालों के पुनर्जीवन में मदद कर सकता है। इसमें रिसिनोलिक एसिड होता है, जो बालों के रोमछिद्रों को प्रोत्साहित करने और खून की संचार को सुधारने में मदद करता है, जिससे नए बालों की वृद्धि होती है। कैस्टर तेल का नियमित उपयोग न केवल बालों के विकास को प्रोत्साहित कर सकता है, बल्कि बालों की मोटाई और मजबूती में सुधार भी कर सकता है, जिससे यह उन लोगों के लिए एक लोकप्रिय और प्रभावी प्राकृतिक उपचार बन जाता है जो अपने बालों की स्वास्थ्य और जीवंतता को बढ़ाना चाहते हैं।

५) अरंडी का तेल कितनी तेजी से काम करता है?

कैस्टर तेल का उपयोग करने के लाभ दिखने में समय विशेष उद्देश्य और व्यक्तिगत कारकों पर आधारित हो सकता है। जब बालों के विकास के लिए उपयोग किया जाता है, तो कुछ लोग सतत उपयोग के कुछ हफ्तों से कुछ महीनों के भीतर सुधार का अंदाजा लगा सकते हैं। हालांकि, कब्ज़ के जैसे मस्तिष्कया निकालने के लिए, लैक्सेटिव प्रभाव आमतौर पर तेज होता है, आमतौर पर कुछ घंटों के भीतर। ध्यान दें कि व्यक्तिगत परिणाम भिन्न हो सकते हैं, और इच्छित लाभ प्राप्त करने के लिए उद्देश्य के लिए कैस्टर तेल का उपयोग करने में धैर्य और सतत रहना महत्वपूर्ण है।

६) क्या अरंडी का तेल बालों को पुनः उगा सकता है?

हाँ, कैस्टर तेल बालों के पुनर्जीवन में मदद कर सकता है। इसमें रिसिनोलिक एसिड होता है, जो बालों के रोमछिद्रों को प्रोत्साहित करने और खून की संचार को सुधारने में मदद करता है, जिससे नए बालों की वृद्धि होती है। कैस्टर तेल का नियमित उपयोग न केवल बालों के विकास को प्रोत्साहित कर सकता है, बल्कि बालों की मोटाई और मजबूती में सुधार भी कर सकता है, जिससे यह उन लोगों के लिए एक लोकप्रिय और प्रभावी प्राकृतिक उपचार बन जाता है जो अपने बालों की स्वास्थ्य और जीवंतता को बढ़ाना चाहते हैं।

७) अरंडी का तेल अपने पेट पर रगड़ने से क्या हो सकता है?

जब कैस्टर तेल पेट पर रगड़ा जाता है, तो यह त्वचा के माध्यम से शरीर में संशोधित हो सकता है और हल्का सा लैक्सेटिव प्रभाव हो सकता है। इसका कारण है कि कैस्टर तेल में रिसिनोलिक एसिड होता है, जो आंतों में मुलायम मांसपेशियों को प्रोत्साहित कर सकता है और मल त्याग को बढ़ावा दे सकता है। हालांकि, त्वचा पर लगाने से मिलने वाला लैक्सेटिव प्रभाव आमतौर पर मुंह से कैस्टर तेल को खाने की तुलना में हल्का होता है। लोग पेट पर कैस्टर तेल पैक का उपयोग कई उद्देश्यों के लिए करते हैं, जिसमें संभव विषाक्ति और दर्द निवारण शामिल हो सकते हैं, लेकिन किसी भी विपरीत प्रभाव से बचने के लिए इनका सतर्कता से और उचित मार्गदर्शन के तहत उपयोग करना महत्वपूर्ण है।

References: 

100% Effective | This 1 Spoon of OIL will Kill Diseases | Home Remedies | SADHGURU https://www.youtube.com/watch?v=Hx8PuClrODo

The Health Benefits of Castor Oil | Medically Reviewed by Zilpah Sheikh, MD | September 20, 2023 | https://www.webmd.com/diet/castor-oil-health-benefits

Does castor oil help constipation?
https://www.medicalnewstoday.com/articles/313523#_noHeaderPrefixedContent

 

files/author_Dr.-Shailendra-Chaubey-BAMS_300x_3fb01719-6325-4801-b35b-3fb773a91669.jpg

Dr. Shailendra Chaubey, BAMS

Ayurveda Practioner

A modern-day Vaidya with 11 years of experience. He is the founder of Dr. Shailendra Healing School that helps patients recover from chronic conditions through the Ayurvedic way of life.

Popular Posts

Leave a comment

Please note, comments need to be approved before they are published.

आपके बाल झड़ने का कारण क्या है?

डॉक्टरों द्वारा डिज़ाइन किया गया Traya का मुफ़्त 2 मिनट का हेयर टेस्ट लें, जो आपके बालों के झड़ने के मूल कारणों की पहचान करने के लिए आनुवांशिक, स्वास्थ्य, जीवनशैली और हार्मोन जैसे 20+ कारकों का विश्लेषण करता है।

हेयर टेस्ट लेTM